June 17, 2021

NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

कोल इंडिया 22 अस्पतालों में लगाएगी 25 मेडिकल ऑक्‍सीजन प्लांट, 35 करोड़ करेगी खर्च

1 min read
Spread the love


Coal India अपने अस्‍पतालों के साथ ही जिला अस्‍पतालों में 25 ऑक्‍सीजन प्‍लांट्स लगाएगी.

कोल इंडिया (Coal India) ऑक्‍सीजन की कमी को पूरा करने की कवायद में मदद के लिए 35 करोड़ रुपये की लागत से 25 ऑक्‍सीजन प्‍लांट्स (Oxygen Plants) लगा रही है. कंपनी ने बताया कि उसके 20 प्‍लांट्स की कुल ऑक्‍सीजन उत्पादन क्षमता 12,700 लीटर प्रति मिनट से ज्यादा होगी. वहीं, चार प्‍लांट्स मिलकर 750 क्‍यूबिक मीटर प्रतिघंटा ऑक्‍सीजन का उत्पादन करेंगे.

नई दिल्‍ली. सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम कोल इंडिया लिमिटेड (Coal India Limited) ने कहा है कि वह कोविड-19 के बढ़ते संकट को देखते हुए ऑक्‍सीजन आपूर्ति (Oxygen Supply) बढ़ाने के मकसद से 22 अस्पतालों में 25 ऑक्‍सीजन प्‍लांट (Oxygen Plants) स्थापित करेगी. इसके लिए कंपनी 35 करोड़ रुपये खर्च करेगी. कोल इंडिया ने कहा कि ये ऑक्‍सीजन प्‍लांट्स कंपनी के अपने अस्पतालों और उन जिला अस्पतालों (District Hospitals) में लगाए जाएंगे, जहां उसकी चार सहयोगी कंपनियां 3,328 ऑक्‍सीजन बेड्स की जरूरतें पूरी करने के लिए काम कर रही हैं. कोल इंडिया के अस्‍पतालों में लगाए जाएंगे 5 ऑक्‍सीजन प्‍लांट्स देश में लगातार तेजी से सामने आ रहे कोविड-19 के पॉजिटिव मामलों के साथ भारत मेडिकल ऑक्‍सीजन की कमी का सामना कर रहा है. कंपनी ने कहा कि कोल इंडिया कई राज्‍यों में महसूस की जा रही ऑक्‍सीजन की कमी को पूरा करने की कवायद में मदद करने के लिए 35 करोड़ रुपये की लागत से 25 ऑक्‍सीजन प्‍लांट्स लगा रही है. कोल इंडिया ने कहा कि जहां उसके 20 प्‍लांट्स की कुल ऑक्‍सीजन उत्पादन क्षमता 12,700 लीटर प्रति मिनट से ज्यादा होगी. वहीं, उसके चार प्‍लांट्स मिलकर 750 क्‍यूबिक मीटर प्रतिघंटा ऑक्‍सीजन का उत्पादन करेंगे. पांच प्‍लांट्स कोल इंडिया के अस्पतालों में लगाए जा रहे हैं. उनसे 332 बेड्स की ऑक्‍सीजन जरूरत पूरी होगी. कंपनी इसके लिए 4.25 करोड़ रुपये खर्च कर रही है. ये भी पढ़ें- पोस्‍ट ऑफिस की इन 3 बचत योजनाओं में बैंक FD से ज्‍यादा मिलेगा रिटर्न! टैक्‍स छूट का भी मिलेगा फायदा, जानें सबकुछएक ऑक्‍सीजन रिफिल प्‍लांट भी चलपा रही है महारत्‍न कंपनी कोविड-19 के नए मामले सामने आने की रफ्तार में पिछले कुछ दिनों में थोड़ी राहत महसूस की जा रही है. बावजूद इसके कई राज्‍यों में अब भी ऑक्‍सीजन की किल्‍लत है. ऐसे में ज्‍यादातर कंपनियां दूसरे कामकाज बंद कर ऑक्‍सीजन का उत्‍पादन करने में जुटी हैं. इनमें रिलायंस इंडस्‍ट्रीज रोजाना करीब 1,000 मीट्रिक टन, टाटा ग्रुप करीब 1,000 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन की आपूर्ति कर रहे हैं. इनके अलावा भी कई कंपनियां इसमें अपनी तरफ से सहयोग कर रही हैं. वहीं, कोल इंडिया एक ऑक्‍सीजन रिफिल प्‍लांट भी चला रहा है. बता दें कि कोल इंडिया महारत्‍न कंपनी है.







#कल #इडय #असपतल #म #लगएग #मडकल #ऑकसजन #पलट #करड #करग #खरच

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *