NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

क्विक चेन रेस्‍टोरेंट कंपनी Devyani International पेश करने वाली है IPO, दे सकती है तगड़ा मुनाफा, इसके बारे में जानें सबकुछ

1 min read
Spread the love

[ad_1]

IPO

IPO

देवयानी इंटरनेशनल (Devyani International) ने आईपीओ (IPO) के जरिये 1400 करोड़ रुपये जुटाने के लिए मार्केट रेग्‍युलेटर सेबी (SEBI) के पास ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रोस्पेक्टस (DRHP) दाखिल कर दिया है. कंपनी इस इश्‍यू में 400 करोड़ रुपये के फ्रेश शेयर (Fresh Shares) जारी करेगी.

नई दिल्‍ली. बर्गर किंग (Burger King) और बारबीक्यू नेशन (Barbeque Nation) के बाद एक और क्विक चेन रेस्टोरेंट (QSR) कंपनी शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने की तैयारी में है. दरअसल, प्राइमरी मार्केट से 1400 करोड़ रुपये जुटाने के लिए भारत में पिज्जा हट (Pizza Hut), केएफसी (KFC) और कोस्टा कॉफी (Costa Cofee) की सबसे बड़ी फ्रेंचाइजी कंपनी देवयानी इंटरनेशनल (Devyani International) आईपीओ लॉन्च करने जा रही है. कंपनी ने इस आईपीओ के जरिये 1400 करोड़ रुपये जुटाने के लिए पूंजी बाजार नियामक सेबी (SEBI) को ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रोस्पेक्टस (DRHP) सौप दिया है. OFS के जरिये प्रमोटर्स जारी करेंगे 12 करोड़ से ज्‍यादा इक्विटी शेयर देवयानी इंटरनेशनल इस आईपीओ में 400 करोड़ रुपये के फ्रेश शेयर जारी करेगी. वहीं, प्रमोटर्स ऑफर फॉर सेल (OFS) के जरिये कंपनी के 12,53,33,330 इक्विटी शेयर जारी करेंगे. इस आईपीओ के जरिये कंपनी के इंवेस्टर आरजे कॉर्प (RJ Corp) और टेमसेक (Temasek) कंपनी से आंशिक एग्जिट करेंगे. सेबी को सौंपे ड्राफ्ट पेपर से एक बात साफ हो गई है कि बेस्ट क्‍यूएसआर स्टॉक कौन है. कोरोना वायरस की दूसरी लहर के कारण रेस्टोरेंट की सप्लाई 15 फीसदी तक कम हो गई है. वहीं, एग्रीगेटर्स ने अपनी डिलिवरी फीस भी बढ़ा दी है. इस वजह से भारतीय रेस्टोरेंट चेन के मुकाबले वेस्टर्न क्‍यूएसआर ज्‍यादा फायदे में हैं. ये भी पढ़ें- Tata Steel ने दिखाया बड़ा दिल! कोरोना से हुई कर्मचारी की मौत तो परिवार को रिटायरमेंट तक हर महीने मिलता रहेगा वेतनब्रोकरेज फर्म्स: सबसे बेहतर क्‍यूएसआर कंपनी नहीं देवयानी इंटरनेशल देवयानी इंटरनेशनल के डीआरएचपी का विश्‍लेषण करने वाली ब्रोकरेज फर्म आईसीआईसीआई सिक्‍योरिटीज (ICICI Securities) के मुताबिक बेस्ट क्‍यूएसआर कंपनी देवयानी इंटरनेशनल नहीं, बल्कि भारत में डॉमिनोज (Domino’s) की फ्रेंचाइजी कंपनी जुबिलैंट फूडवर्क्‍स (Jubilant Foodworks) है. ब्रोकरेज फर्म का कहना है कि पिज्जा का प्रॉफिट मार्जिन और EBITDA मार्जिन बर्गर के मुकाबले काफी अच्छा है. पिज्जा की कैटेगरी में जुबिलैंट फूडवर्क्‍स की बाजार हिस्सेदारी पिज्‍जा हट के मुकाबले दोगुना से भी ज्‍यादा है. ये भी पढ़ें- Train Cancellation: रेलवे ने यास तूफान के कारण लंबी दूरी की 38 ट्रेनें कीं रद्द, घर से निकलने के पहले चेक करें पूरी लिस्‍ट
जुबिलैंट फूडवर्क्‍स को लेकर ज्‍यादा उत्‍साहित हैं ब्रोकरेज फर्म्स बर्गर कैटेगरी में भी देवयानी इंटरनेशनल यानी केएफसी का मार्केट शेयर वेस्‍टलाइफ के मैक्‍डोनाल्‍ड्स (McDonalds) से 21 फीसदी और बर्गर किंग (Burger King) से 8 फीसदी कम है. साथ ही तीनों बर्गर चेन का ग्रॉस मार्जिन 65 फीसदी के करीब है. इस कैटेगरी में प्रॉफिट मार्जिन और मार्केट शेयर के मामले में मैक्‍डोनाल्‍ड्स सबसे आगे है. आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज के साथ ही दूसरी ब्रोकरेज फर्म्स भी जुबिलैंट फूडवर्क्‍स को लेकर ही बुलिश हैं. सीएलएसए (CLSA) के मुताबिक, जुबिलेंट फूडवर्क्स के पास देश में सबसे अच्छी डिलिवरी सर्विस है. वहीं, कोटक सिक्योरिटीज (Kotak Securities) ने भी जुबिलेंट के साथ वेस्‍टलाइफ को बाय रेटिंग्स दी हैं. वहीं, बर्गर किंग को सेल रेटिंग्स दी है.





[ad_2]

#कवक #चन #रसटरट #कपन #Devyani #International #पश #करन #वल #ह #IPO #द #सकत #ह #तगड #मनफ #इसक #बर #म #जन #सबकछ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *