NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

जरूरी जानकारी: स्वास्थ्य बीमा का क्लेम खारिज न हो, इसलिए रखें ये 6 सावधानियां

1 min read
Spread the love


नई दिल्ली. मेडिकल इमरजेंसी किसी के भी सामने कभी आ सकती है.चुनौतीपूर्ण स्थितियों के लिए तैयार रहना जरुरी है. स्वास्थ्य बीमा ऐसी स्थितियों में बहुत मददगार होता है. हालांकि, यदि आपका दावा खारिज हो जाता है तो यह आपके पूरे उद्देश्य को ही नाकाम कर देता है. यहां हम कुछ ऐसी सावधानियों पर चर्चा करेंगे, जिनसे आप अपना क्लेम खारिज होने से बचा सकते हैं…

1- किसी प्रकार की कोई भी जानकारी ना छुपाएं

यह क्लेम रिजेक्ट होने का सबसे आम कारण है. कई लोग यह सोच कर जानकारी को छुपाते हैं कि उन्हें अतिरिक्त प्रीमियम देना होगा या वे इससे पॉलिसी के पात्र नहीं होंगे. जैसे यदि आप ध्रूमपान करते हैं, तो आपको इसका उल्लेख करन चाहिए, अन्यथा आपका दावा खतरे में पड़ जाएगा.

यह भी पढ़ें- Covid-19 के सबक: वसीयत बनाएं, ताकि आपके बाद अपनों को हक पाने में ना हो कोई परेशानी2- पहले से मौजूद बीमारी के बारे में जरूर बताएं –

पूर्व- मौजूदा स्थिति का अर्थ है कोई भी बीमारी या चोट जो आपको स्वास्थ्य बीमा योजना लेने से पहले हो सकती है. पॉलिसी खरीदते समय एक बार घोषित होने के बाद, बीमाकर्ता पहले से मैजूद स्थिति या दोनों के लिए प्रतीक्षा अवधि/ चार्ज लोडिंग शामिल कर सकता है.

3- पॉलिसी लेते समय सटीक जानकारी दें

जब बीमा की बात आती है तो ईमानदारी सबसे अच्छी नीति है का पालन अवश्य करें. कोई भी विसंगति दावा अस्वीकृति का कारण बन सकती है और निश्चित तौर पर आप ऐसी निराशा स्थिति का सामना नहीं करना चाहेंगे. इसलिए सभी जानकारियां सही-सही भरें.

यह भी पढ़ें- एसबीआई कार्ड में यह कंपनी बेच रही 5.1 फीसदी हिस्सेदारी, इस साल की सबसे बड़ी होगी

4 – समय पर पॉलिसी के प्रीमियम का भुगतान

सुनिश्चित करें कि आपकी पॉलिसी लैप्स नहीं हुई है. क्योंकि दावे केवल एक्टिव पॉलिसी के लिए वितरित किए जाते हैं. एक लैप्स पॉलिसी का अर्थ है कवरेज का अंत. आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपने समाप्ति तिथि से पहले अपने स्वास्थ्य बीमा का नवीनीकरण कर लिया है.

5 – अस्पताल में भर्ती होने पर समय पर सूचना देना

समय पर सूचना देना जरूरी है. यदि आप किसी को समय पर सूचित नहीं करते हैं तो कई पॉलिसी प्रदाता आपके स्वास्थ्य बीमा दावे को अस्वीकार कर सकते हैं. एक पूर्व – निर्धारित समय सीमा होती है, जिसका आपको पालन करना चाहिए. ऐसा करने में विफल रहने पर दावा खारिज हो सकता है.

6- पॉलिसी कवरेज के बारे में अच्छी तरह जान लेना

एख सिंगल हेल्थ पॉलिसी चिकित्सा आपात स्थिति से संबंधित हर पहलू को कवर नहीं कर सकती है. कई एक्सक्लूशंस कवर नहीं किए जाते. आपको यह समझने के लिए अपनी पॉलिसी में इस सूची को अच्छी तरह से देखना चाहिए कि क्या क्या कवरेज से बाहर है?

सुनिश्तिच करें कि आप इलाज के लिए किसी प्रतिष्ठित केंद्र में जाएं. बीमाकर्ता के पैनल में शामिल अस्पतालों में कैशलेस सुविधा का विकल्प चुनना सबसे अच्छा है. यदि आप इन बातों को ध्यान में रखतें हैं, तो आपका क्लेम आसानी से क्लीयर हो जाएगा.



#जरर #जनकर #सवसथय #बम #क #कलम #खरज #न #ह #इसलए #रख #य #सवधनय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *