NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

फिट रहना है तो किस वक्‍त करें एक्सरसाइज, सुबह या शाम? यहां जानें

1 min read
Spread the love


हेल्‍दी रहने के लिए रोज व्‍यायाम करना जरूरी है. Image Credit : Pixabay

व्‍यायाम (Exercise) करने का सही वक्‍त (Time) क्‍या है इसको लेकर हमेशा हमारे मन में असमंजसता (Confusion) बनी रहती है. तो आइए जानते हैं कि व्‍यायाम करने का दरअसल सही वक्‍त क्‍या हो सकता है.

Right Time For Workout : व्‍यायाम (Exercise) के महत्‍व को तो हम सभी जानते हैं. खासतौर पर जब दुनियाभर में कोरोना (Corona) संक्रमण का दौर चल रहा है तब डॉक्‍टर लगातार सेहतमंद (Health) रहने के लिए हेल्‍दी डाइट और व्‍यायाम करने की सलाह दे रहे हैं. बताया जा रहा है कि एक्टिव लाइफ स्‍टाइल फॉलो कर आप अपने शरीर को तो स्‍ट्रॉन्‍ग रखते ही हैं बीमारियों से भी बचे रहते हैं. यही नहीं, रोजाना व्‍यायाम करने से आपके शरीर में हैप्‍पी हार्मोंस बनते हैं जो आपको अकेलेपन, डिप्रेशन जैसी मानसिक समस्‍याओं से भी बचाए रखता है. फिट रहने के लिए कब करें व्‍यायाम भागदौड़ की जिदंगी में सभी के पास समय का अभाव है. हम व्‍यायाम को लाइफस्‍टाइल में शामिल तो करना चाहते हैं लेकिन यह समझ नहीं आता कि आखिर इसे करें कब. वैसे तो व्‍यायाम करने का कोई खास समय नहीं होता लेकिन अगर हम एक सही समय में इसे रोज करें तो यह अधिक असरदार हो सकता है. आमतौर पर जो लोग सुबह जल्‍द उठते हैं उनके लिए सुबह का समय बेस्‍ट होता है लेकिन जो लोग शाम के वक्‍त फ्री होते हैं उनके लिए शाम बेहतर समय होता है. लेकिन अगर हम अपने शरीर के फायदे के बारे में सोचें तो अलग अलग राय मिलती हैं. इसे भी पढ़ें : बिना वजह हो जाता है मूड खराब तो इन 11 फूड्स का करें सेवन, तुरंत करेगा मूड‍ लिफ्टमॉर्निंग वर्कआउट के फायदे हेल्‍थलाइन के मुताबिक, अगर आप मार्निग में वर्कआउट करते हैं तो यह कार्डियो के लिए परफेक्ट है. जब आपका शरीर वर्कआउट करने के बाद एंडोर्फिन (Endorphin) रिलीज करता है तो आप दिन के लिए पूरी तरह से तैयार होते हैं और अपने दिन की शुरुआत फ्रेशनेस के साथ करते हैं. इससे आप दिनभर एनर्जेटिक रहते हैं.आपके पास अपना पसंदीदा खाना पकाने, खाने, आराम करने, सोशल होने और पूरे दिन आराम करने के लिए भी टाइम मिल जाता है. यह भी कहा जाता है कि सुबह खाली पेट व्‍यायाम किया जाए तो फैट तेजी से बर्न होता है. शाम का वर्कआउट
सुबह की तरह शाम के वर्कआउट में भी कुछ फायदा है जैसे शाम के व्‍यायाम से पहले आपको वार्मअप करने की जरूरत नहीं पड़ती. आपका शरीर एक्‍सरसाइज के लिए पहले से ही तैयार होता है. बता दें कि दोपहर 2 बजे से शाम 6 बजे तक बॉडी का टेम्‍परेचर हाइएस्‍ट होता है जिस वजह से इसे वर्कआउट के लिए मोस्‍ट एफेक्टिव टाइम कहा जा सकता है. इसके अलावा, शाम के वक्‍त ऑक्सिजन अपटेक अधिक होता है. यही नहीं, शाम के समय वर्कआउट करने पर सुबह की तुलना में इसका रिएक्‍शन टाइम भी कम होता है जो व्‍यायाम के लिए जरूरी है. वहीं शाम के वक्‍त हार्ट रेट और ब्‍लड प्रेशर भी सबसे कम होता है जिस वजह से किसी तरह की इंज्‍यू‍री की संभावना कम होती है. शाम के बाद यानी कि रात के समय वर्कआउट करना आपकी नींद को प्रभावित कर सकता है. हालांकि शोधों में पाया गया है कि सुबह की तुलना में जो लोग शाम के वक्‍त वेट एक्‍सरसाइज करते हैं उन्‍हें गहरी और क्‍वालिटी नींद आती है. इसे भी पढ़ें : दूध पीने का सही समय क्‍या है और इसे कब पीना हो सकता है नुकसानदेह? जानें फिर कब करें व्‍यायाम कुल मिलाकर विज्ञान यह कहता है कि सेहतमंद होने के लिए व्यायाम करना जरूरी है फिर आप सुबह में करें या शाम के वक्‍त. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)







#फट #रहन #ह #त #कस #वकत #कर #एकसरसइज #सबह #य #शम #यह #जन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *