NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

फिल मिकेलसन ने जीती पीजीए चैंपियनशिप, सबसे उम्रदराज मेजर चैंपियन बने

1 min read
Spread the love


फिल मिकेलसन ने सबसे उम्रदराज मेजर चैंपियन का रिकॉर्ड बनाया (Phil Mickelson/Twitter)

फिल मिकेलसन ने रविवार को यहां पीजीए चैंपियनशिप जीतकर मेजर खिताब जीतने वाला सबसे उम्रदराज गोल्फर बनने का रिकॉर्ड बनाया.

कियावाह आइलैंड (अमेरिका). फिल मिकेलसन ने रविवार को यहां पीजीए चैंपियनशिप जीतकर मेजर खिताब जीतने वाला सबसे उम्रदराज गोल्फर बनने का रिकॉर्ड बनाया. मिकेलसन अभी 50 साल के हैं और उन्होंने अपना छठा मेजर खिताब जीता. उन्होंने शुरू में दो बर्डी बनाई, जिसके बाद हवा चलने लगी. कोई भी अन्य खिलाड़ी उनकी बराबरी तक नहीं पहुंच पाया. उन्होंने चौथे दौर में एक ओवर 73 का कार्ड खेला और कुल स्कोर में अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी लुईस ओस्तुइजेन और ब्रूक्स कोएपका को दो शॉट से पीछे छोड़ा. सबसे उम्रदराज मेजर चैंपियन का रिकॉर्ड इससे पहले जूलियस बोरोस के नाम पर दर्ज था. उन्होंने 1968 में सैन एंटोनियो में पीजीए चैंपियनशिप का खिताब जीता था. इस तरह से 53 साल तक उनके नाम पर यह रिकॉर्ड दर्ज रहा. मिकेलसन तीन दशकों में मेजर चैंपियन बनने वाले 10वें खिलाड़ी बने. इस सूची में टाइगर वुड्स भी शामिल हैं. फिल मिकेलसन के 50 साल की उम्र में पीजीए चैंपियनशिप खिताब जीतने पर सोशल मीडिया पर लोग उन्हें बधाई दे रेह हैं. गोल्फ के जानकार का मानना है कि मिकेलसन ने गोल्फ का एक नया इतिहास कायम कर दिया है, जिसे अब किसी दूसरे गोल्फर के लिए तोड़ना मुश्किल है.

फिल मिकेलसन ने कहा, ”मैं नहीं जानता कि इस अहसास को किस तरह बयान करूं. कुछ करने की तृप्ति और उपलब्धि है, जब बहुत कम लोगों ने सोचा था कि मैं ऐसा कर सकता हूं.” 2013 के ब्रिटिश ओपन के बाद मिकेलसन की यह पहली बड़ी जीत थी. उन्होंने कहा, ”यह सिर्फ एक अविश्वसनीय अहसास है, क्योंकि मुझे विश्वास था कि यह संभव है.” उन्होंने कहा कि मुझे आशा है कि दूसरों के लिए यह प्रेरणादायक होगा. 15 बार के प्रमुख विजेता और लंबे समय तक मिकेलसन के प्रतिद्वंद्वी रहे टाइगर वुड्स ने ट्वीट किया, ”50 साल की उम्र में फिल मिकेलसन को फिर से ऐसा करते देखना वाकई प्रेरणादायक है. बधाई हो!!!!!!!”









#फल #मकलसन #न #जत #पजए #चपयनशप #सबस #उमरदरज #मजर #चपयन #बन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *