NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

भारतीय कंपनियों का विदेशी बाजार में घटा निवेश, फरवरी में 1.85 अरब डॉलर पर पहुंचा

1 min read
Spread the love


भारतीय कंपनियों का कुल विदेशी निवेश जनवरी के 1.19 अरब डॉलर की तुलना में ज्यादा रहा.

रिजर्व बैंक के मुताबिक, भारतीय कंपनियों के विदेशी बाजारों में कुल निवेश में 1.36 अरब डॉलर लोन के रूप में दिए गए.

नई दिल्ली. भारतीय कंपनियों (India Inc) का विदेशी बाजारों में निवेश (Overseas Direct Investment) फरवरी में 31 फीसदी घटकर 1.85 अरब डॉलर रह गया. भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) के आंकड़ों के मुताबिक, घरेलू कंपनियों ने फरवरी 2020 में अपनी विदेशी सब्सिडियरीज और ज्वाइंट वेंचर्स में 2.66 अरब डॉलर का निवेश किया था.

जनवरी में भारतीय कंपनियों का विदेशी निवेश 1.19 अरब डॉलर 
रिजर्व बैंक के मुताबिक, भारतीय कंपनियों के विदेशी बाजारों में कुल निवेश में 1.36 अरब डॉलर लोन के रूप में दिए गए. 29.73 करोड़ डॉलर का निवेश इक्विटी के रूप में हुआ और शेष 18.38 करोड़ रुपये गारंटी के रूप में दिए गए. हालांकि, भारतीय कंपनियों का कुल विदेशी निवेश जनवरी के 1.19 अरब डॉलर की तुलना में ज्यादा रहा.

ये भी पढ़ें- LPG Gas Subsidy Status: क्या आपके अकाउंट में आ रही है गैस सब्सिडी, ऐसे आसानी से करें पताप्रमुख निवेशकों में रहा टाटा स्टील

फरवरी में भारतीय कंपनियों द्वारा विदेशी बाजार में किए गए प्रमुख निवेश में टाटा स्टील द्वारा सिंगापुर की अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी में एक अरब डॉलर और सन फार्मास्युटिकल्स द्वारा अमेरिका में ज्वाइंट वेंचर में किया गया 10 करोड़ डॉलर का निवेश शामिल है.

ये भी पढ़ें- बहुत आसान है Credit Card Statement समझना, जानें किन-किन चीजों की मिलती है जानकारी

ओएनजीसी विदेश लिमिटेड ने किया 9.61 करोड़ डॉलर का निवेश
ओएनजीसी विदेश लि. (ONGC Videsh Ltd) ने रूस, मोजाम्बिक, म्यामार, सूडान, कोलंबिया, वियतनाम और अजरबेजान में अपनी विभिन्न ज्वाइंट वेंचर्स-पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरीज में 9.61 करोड़ डॉलर का निवेश किया.








#भरतय #कपनय #क #वदश #बजर #म #घट #नवश #फरवर #म #अरब #डलर #पर #पहच

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *