NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

वेंटीलेटर, एन-95 मास्क और सैनीटाइजर जैसी कई चीजें होंगी सस्ती, जीएसटी दर घटेगी

1 min read
Spread the love

[ad_1]

नई दिल्ली. जीएसटी काउंसिल (GST Council) की अहम बैठक 12 जून को होगी. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala sitharaman) की अध्यक्षता में होने वाली इस बैठक में कोरोनावायरस महामारी से संबंधी आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी दरों (GST Rates) में कटौती के बारे में फैसला हो सकता है.

सूत्रों के मुताबिक जीएसटी परिषद (Council) ने 28 मई को पिछली बैठक में पीपीई किट, मास्क और टीके सहित कोविड संबंधी आवश्यक वस्तुओं पर कर राहत देने के लिए मंत्रियों के एक समूह (Group of Ministers) का गठन किया था. जीओएम ने अध्ययन के बाद सात जून को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है.

यह भी पढ़ें :  मोदी सरकार ने पेट्रोलियम का स्टोरेज करने के लिए खेला बड़ा दांव, जानें सब कुछ

इन उपकरणों और दवाईयों पर घट सकता है टैक्सजीओएम को चिकित्सा ग्रेड की आक्सीजन (medical grade oxygen), पल्स आक्सीमीटर (pulse oximeter), हैंड सेनिटाइजर (hand sanitizer), आक्सीजन उपचार संबंधी उपकरणों जैसे कंसंट्रेटर, वेंटीलेटर, पीपीई किट, एन-95 और सर्जिकल मास्क तथा तापमान मापने वाले उपकरणों पर जीएसटी दर से छूट अथवा रियायत के बारे में अपनी राय देनी थी. जीओएम ने इन पर रियायत देने की सलाह दी है.

यह भी पढ़ें :  बीमा पॉलिसी खरीदने के लिए कंपनियों की यह शर्त पूरी करना जरूरी, जानें पूरा मामला 

Youtube Video

जीओएम की रिपोर्ट पर बैठक में होगा विचार

अधिकारियों ने कहा कि जीएसटी परिषद की बैठक शनिवार को होगी और इस दौरान जीओएम (GOM) की रिपोर्ट पर विचार किया जाएगा. माना जा रहा है कि कुछ राज्यों के वित्त मंत्रियों (Finance Ministers) ने कोविड-19 महामारी से संबंधित आवश्यक वस्तुओं पर दर में कटौती की वकालत की है.

यह भी पढ़ें : नौकरी की बात : जॉब्स तलाशने के लिए हैशटैग का इस्तेमाल करें, जानें ऐसी ही जरूरी टिप्स

पश्चिम बंगाल के बाद उत्तर प्रदेश भी जीएसटी कटौती के पक्ष में

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की नेता ममता बनर्जी ने पुरजोर तरीके से जीएसटी कटौती की वकालत की थी. इसके बाद कई विपक्षी पार्टियों द्वारा शासित राज्यों ने जीएसटी कटौती का समर्थन किया था. अब भाजपा शासित उत्तर प्रदेश ने भी सहमति जताई है. उत्तरप्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना (Suresh Khanna) ने बुधवार को कहा था कि राज्य सरकार मरीजों की सुविधा के लिए कोविड संबंधी आवश्यक वस्तुओं पर करों में कटौती के पक्ष में है. हालांकि, वह वस्तु एवं सेवा कर (GST) दरों के संबंध में जीएसटी परिषद के निर्णय को स्वीकार करेगी.

[ad_2]

#वटलटर #एन95 #मसक #और #सनटइजर #जस #कई #चज #हग #ससत #जएसट #दर #घटग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *