NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

श्रीशंकर बोले, अपनी कमियों पर काम कर रहा हूं, विदेशों में प्रतियोगिताओं में खेलने की उम्मीद

1 min read
Spread the love


श्रीशंकर ने टोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए क्वालिफाई कर लिया है. (Twitter/SAI Media)

टोक्यो ओंलंपिक का टिकट हासिल कर चुके लंबी कूद के एथलीट मुरली श्रीशंकर ने कहा कि वह यूरोप में खेलने को लेकर आशावादी हैं लेकिन यदि ऐसा संभव नहीं हो पाता है तो एशियाई सर्किट में भी कुछ प्रतियोगिताएं होनी हैं, जिसमें वह ओलंपिक से पहले हिस्सा लेना चाहते हैं.

मुंबई. टोक्यो ओलंपिक की तैयारियों में लगे लंबी कूद के एथलीट मुरली श्रीशंकर ने शनिवार को कहा कि वह फेडरेशन कप के दौरान पाई गई खामियों को दूर करने पर काम कर रहे हैं. उन्हें भारतीयों पर वर्तमान में लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों के हटने के बाद विदेशों में प्रतियोगिताओं में भाग लेने की उम्मीद है. केरल के इस 22 वर्षीय एथलीट ने मार्च में पटियाला में फेडरेशन कप सीनियर राष्ट्रीय एथलेटिक्स चैंपियनशिप के दौरान 8.26 मीटर की छलांग लगाकर स्वयं के राष्ट्रीय रिकॉर्ड को तोड़कर टोक्यो खेलों के लिए क्वालिफाई कर लिया है. श्रीशंकर ने भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) की ओर से आयोजित वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘फेडरेशन कप के तुरंत बाद मैंने अपनी सभी खामियों पर इस संदर्भ में गौर किया कि मैं तकनीकी तौर पर किन चीजों में पीछे हूं. हमने इन सभी का आकलन किया और हम अब इस पर काम कर रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘सब कुछ सही चल रहा है. केवल एक ही चिंता है कि भारतीय खिलाड़ियों पर यात्रा प्रतिबंध लगे हैं जिससे हम विदेशों में प्रतियोगिताओं में भाग नहीं पा रहे. यह बहुत बड़ी चुनौती है और मुझे इसका सामना करना होगा और इससे पार पाना होगा.’ इसे भी पढ़ें, 148 भारतीय खिलाड़ियों को लगी कोरोना वैक्‍सीन की पहली डोज 22 वर्षीय श्रीशंकर ने कहा कि यात्रा प्रतिबंधों में ढिलाई दिए जाने के बाद वह एशियाई सर्किट में कुछ प्रतियोगिताओं में भाग लेने पर ध्यान दे रहे हैं. इस युवा एथलीट ने कहा, ‘मैं यूरोप में खेलने को लेकर आशावादी हूं लेकिन यदि ऐसा संभव नहीं हो पाता है तो एशियाई सर्किट में भी कुछ प्रतियोगिताएं होनी है. मैं ओलंपिक से पहले इनमें भाग लेना चाहता हूं.’श्रीशंकर अभी अपने पिता के साथ केरल के पलक्कड में अभ्यास कर रहे हैं और उन्हें ओलंपिक से पहले तीन-चार प्रतियोगिताओं में भाग लेने की उम्मीद है. उन्होंने कहा, ‘मुझे ओलंपिक से पहले कम से कम तीन चार प्रतियोगिताओं में भाग लेने की उम्मीद है, ताकि मैं टोक्यो में लंबी छलांग लगाने के लिए पूरी तरह से तैयार रहूं.’ इसे भी पढ़ें, अंशु मलिक ने कुश्ती शुरू करने के सात साल के अंदर हासिल किया ओलंपिक कोटा केरल के श्रीशंकर ने कहा कि यदि वह एशियाई या यूरोपीय प्रतियोगिताओ में भाग नहीं ले पाते हैं तो घरेलू प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेंगे. उन्होंने कहा, ‘मैं निश्चित तौर पर इंडियन ग्रां प्री-4 और राष्ट्रीय अंतरराज्यीय प्रतियोगिता (जून में)​ हिस्सा लूंगा. यदि मैं घरेलू स्तर पर भी प्रतियोगिताओं में भाग लेता हूं तो इससे भी काफी मदद मिलेगी. हमारे यहां आठ मीटर की छलांग लगाने वाला एथलीट है. दो खिलाड़ी ऐसे हैं जो 7.90 मीटर छलांग लगा देते हैं इसलिए मेरे लिए प्रतिस्पर्धी माहौल रहेगा.’







#शरशकर #बल #अपन #कमय #पर #कम #कर #रह #ह #वदश #म #परतयगतओ #म #खलन #क #उममद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *