NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

अध्यक्ष महबूबा के बयान पर भड़के पीडीपी के तीन नेताओं ने दिया इस्तीफा

1 min read
PDP leaders TS Bajwa, Ved Mahajan & Hussain A Waffa resign from the party. PDP leaders TS Bajwa, Ved Mahajan & Hussain A Waffa resign from the party.

जम्मू कश्मीर . पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती अपने आवास पर मीडिया को संबोधित करती हुईं।

जम्मूकश्मीर में तिरंगे को लेकर दिए बयान पर हुए नाराज

  न्यूज नाउ . नई दिल्ली । जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती की पार्टी पीडीपी को करारा झटका लगा है। बीते सोमवार को पीडीपी नेता टी.एस. बाजवा, वेद महाजन और हुसैन ए वफा ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है।
पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को लिखे एक पत्र में इन तीनों नेताओं ने कहा है कि उनके कुछ कार्यों और विशेषकर कुछ बयान, जिनसे देशभक्ति की भावनाएं आहत होती हैं, ऐसे बयान और काम उन्हें बर्दाश्त नहीं हैं। वे तिरंगे को लेकर दिए गए पार्टी अध्यक्ष के बयान के खिलाफ इस्तीफ दे रह हैं।
आपको बता दें कि पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने पिछले दिनों एक बयान दिया था कि जब तक जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधान दोबार से लागू नहीं हो जाते हैं, तक वे ितरंगा तो क्या कोई भी झंडा नहीं थामेंगी। महबूबा ने अपने आवास पर मीडियाकर्मियों सेे कहा था कि उनकी पार्टी पीडीपी की बात है, तो अब हम अकेले नहीं हैं। हमने नेशनल कॉन्फ्रेंस के साथ वर्ष 2018 में पंचायत चुनाव से पहले एक संयुक्त रुख अपनाया था और उसी निर्णय के तहत हमने उन चुनावों का बहिष्कार किया था। इस बार भी हम अपनी पार्टी के भीतर और कार्यकर्ताओं से अनुच्छेद 370 को लेकर चर्चा करेंगे, और फिर पीपुल्स एलायंस (फॉर गुपकर डिक्लेयरेशन) में इस पर मंथन करेंगे। हम वहां जो फैसला लेंगे, वह सब पर लागू होगा।
प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए महबूबा ने कहा था कि जहां तक उनकी बात है, तो उन्हें चुनाव में कोई दिलचस्पी नहीं है। वे तभी चनाव लड़ेंगी जब उन्हें वही पुरारा संविधान (अनुच्छेद 370 के प्रावधान दोबार से लागू नहीं हो जाते) वापस नहीं मिल जाता, जिसके तहत वे चुनाव लड़ती थी।
आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती द्वारा तिरंगे झंडे को लेकर दिए गए बयान को लेकर पार्टी के खिलाफ सोमवार को जम्मू में कई संगठनों ने प्रदर्शन किया। भाजपा और कांग्रेस ने भी पीडीपी अध्यक्ष महबूबा को घेरा। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष रवींद्र शर्मा ने कहा कि राष्ट्र विरोधी ऐसे बयान किसी भी समाज में बर्दाश्त करने लायक नहीं हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय ध्वज देश के सम्मान और अभिमान का प्रतीक है।

More Stories

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *