Latest News

September 21, 2021

NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

5 worst foods for diabetics to eat know what to avoid eating in diabetes – Diabetes मरीजों के लिए ये 5 फूड्स माने जाते हैं खतरनाक, जानिये

1 min read
Spread the love

Worst foods in Diabetes: वैसे तो हेल्दी और बैलेंस्ड डाइट हर व्यक्ति के लिए जरूरी होता है लेकिन डायबिटीज रोगियों को अपने खानपान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। मधुमेह लाइफस्टाइल से जुड़ा एक रोग है जिसमें मरीजों के ब्लड ग्लूकोज का स्तर हमेशा बढ़ा ही रहता है। आप इस बीमारी के किसी भी प्रकार से क्यों न घिरे हों, शुगर लेवल को कंट्रोल में रखने के लिए कुछ फूड्स से परहेज जरूरी है। जानिये ऐसे 5 खाद्य पदार्थों के बारे में जो डायबिटीज रोगियों के लिए सख्त मना हैं।

फ्रेंच फ्राइज: बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक, फ्रेंच फ्राइज कई लोगों को पसंद होता है, लेकिन डायबिटीज रोगियों के लिए ये किसी जहर से कम नहीं होता है। फ्रेंच फ्राइज में भरपूर मात्रा में हाइड्रोजेनेटेड ऑयल मौजूद होता है जो कोलेस्ट्रॉल को काफी हद तक बढ़ा सकता है। ऐसे में अगर मधुमेह रोगी इसका सेवन करते हैं तो इससे उनमें हार्ट डिजीज का खतरा होता है।

रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट: सफेद चावल, ब्रेड या पास्ता जैसे रिफाइंड कार्ब्स के सेवन से डायबिटीज रोगियों के रक्त शर्करा का स्तर बढ़ने का डर रहता है। ये प्रोसेस्ड अनाज शुगर से भरपूर होते हैं और इनमें डाइट्री फाइबर कम मात्रा में पाया जाता है। इसके बजाय लोगों को साबुत अनाज का सेवन करना चाहिए जो ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मदद करते हैं।

मीठे ड्रिंक्स: डायबिटीज रोगियों को शुगरी ड्रिंक्स से पूरी तरह परहेज करना चाहिए। इसमें कार्ब्स उच्च मात्रा में पाए जाते हैं और फ्रुक्टोज की भी अधिकता होती है जो इंसुलिन रेसिस्टेंस की समस्या को बढ़ाते हैं। इससे मेटाबॉलिज्म खराब होता है और मरीजों को फैटी लिवर जैसी परेशानी हो सकती है।

आर्टिफिशियल ट्रांस फैट: हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक पीनट बटर, चॉको स्प्रेड, फ्रोजन डिनर में ट्रांस फैट पाया जाता है, ऐसे में डायबिटीज रोगियों को इनसे परहेज करना चाहिए। उनके अनुसार इस तरह के फैट्स सीधे तौर पर शुगर लेवल को नहीं बढ़ाते हैं, बल्कि इंफ्लेमेशन, इंसुलिन रेसिस्टेंस और बेली फैट को बढ़ा सकते हैं।

शहद और मैप्पल सिरप: अधिकांश लोग इस बात से वाकिफ होते हैं कि मधुमेह में सफेद चीनी से परहेज करना चाहिए। इस वजह से मरीज आर्टिफिशियल शुगर जैसे कि मैप्पल का इस्तेमाल करते हैं। साथ ही, कई लोग शहद का उपयोग मिठास पाने के लिए करते हैं। आपको बता दें कि डायबिटीज रोगियों को इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि वो दिन भर में कितना कार्ब्स ले रहे हैं।

शहद में चीनी से अधिक कार्बोहाइड्रेट होता है, ऐसे में डायबिटिक्स के लिए इसका सेवन नुकसानदायक हो सकता है। बता दें कि एक चम्मच चीनी में जहां 12.6 ग्राम ही कार्ब्स होता है वहीं, इतने ही शहद में 17.3 और मैप्पल सिरप में 13.4 ग्राम कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed