September 23, 2021

NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Bhabi Ji Ghar Par Hai: In Whole Team only Tiwari ji was Not given US visa, the reason was heartbroken to hear; Rohitash Gaur told the story – ‘भाभी जी घर पर है’ के सिर्फ ‘तिवारी जी’ को ही नहीं दिया गया US वीजा, वजह सुन टूट गया था दिल; रोहिताश गौर ने सुनाया था किस्सा

1 min read
Spread the love

अमेरिका एयरपोर्ट पर जैसे सुपरस्टार शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) रोक लिए गए थे, ऐसे ही एक बार ‘भाभी जी घर पर है’ (Bhabhi Ji Ghar Par Hai) के ‘तिवारी जी’ यानी लीडिंग एक्टर रोहिताश गौर को रोक लिया गया था। इस बारे में उन्होंने एक बार किस्सा बयां किया था।

रोहिताश ने बताया था कि वह तब बहुत मायूस और दुखी हो गए थे, क्योंकि उस वक्त वह अपनी टीम भाभी जी के सभी सदस्यों के साथ थे। ऐसे में पूरी टीम यूएस के लिए रवाना हो गई लेकिन वह वहीं अकेले रह गए। 4 साल पहले की ये घटना है, जिसका जिक्र करते हुए रोहिताश बोले थे कि यूएस जाने की प्लानिंग थी। सबको वीजा ग्रांटिड था लेकिन गवर्नमेंट ने उनका वीजा अटका दिया।

कोईमोई की रिपोर्ट के मुताबिक, रोहिताश ने बताया था कि वह उस वक्त इतने अपसेट हो गए थे कि अपनी निराशा बयां ही नहीं कर पा रहे थे। यूएस वीजा मैटर पर उन्होंने कहा था- ‘हमारी पूरी टीम ने न्यूयॉर्क-इंडिया परेड अटेंड करी थी। 21 अगस्त का दिन था। लेकिन मेरा वीजा रिजेक्ट हो गया था। उन्हें लगा कि मैं प्रोफेशनल कॉन्टेक्ट के बलबूते जा रहा हूं। ये बहुत अजीब बात थी, कि उन्होंने मुझे वीज़ा देने से इनकार कर दिया और बाकी सभी को दे दिया।’

 

View this post on Instagram

 

रोहिताश ने आगे बताया कि ‘हमने फिर से वीजा अप्लाई किया। तब सारी फॉर्मेलिटीज तो क्लियर हो गई थीं। लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। तब तक तो इवेंट खत्म हो चुका था।’ बता दें, रोहिताश को टीवी इंडस्ट्री में काम करते करते 16 साल बीत चुके हैं। मंझे हुए कलाकार टीवी में अपनी खास पहचान रखते हैं। लेकिन वे नहीं चाहते कि उनकी बेटी टीवी इंडस्ट्री में काम करे। इस बारे में एक बार खुद रोहिताश ने बताया था।

बताते चलें, भाबी जी के अलावा रोहिताश लापतागंज, जस्सू बेन जयंतीलाल की जॉइंट फैमिली में एक्टर मुख्य किरदार निभाते दिखे थे। वहीं रोहिताशस ढेरों फिल्मों में भी काम कर चुके हैं। संजय दत्त की मुन्ना भाई एमबीबीएस और पीके में भी रोहिताश नजर आए थे।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *