September 22, 2021

NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Birthday special anurag kashyap born in gorakhpur but wassepur people are annoyed to film director know reason pr

1 min read
Spread the love

हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के दिग्गज फिल्म डायरेक्टर, राइटर, फिल्म मेकर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) का जन्म 10 सितंबर 1972 में हुआ था. उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध शहर गोरखपुर (Gorakhpur) में जन्में अनुराग लीक से हटकर फिल्में बनाने के लिए जाने जाते हैं. सिनेमा में नायाब प्रयोग करने वाले अनुराग ने कई फिल्म पुरस्कार हासिल किए हैं. अनुराग एक ऐसे फिल्मकार हैं जो समाज की कड़वी सच्चाई को मनोरंजक रुप से दर्शकों के सामने परोसते हैं.

अनुराग की सबसे सफल फिल्म ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ मानी जाती है. कहते हैं कि फिल्म बनाने के बाद वासेपुर इतना अधिक बदनाम और चर्चित हो गया कि वहां के लोगों को परेशानी होने लगी. यहां की कुछ सच्ची घटनाओं में इतना मिर्च मसाला लगा कर परोसा गया कि लोगों के जेहन से वासेपुर की हिंसक तस्वीर निकलती ही नहीं.इससे यहां के लोग बहुत नाराज हैं. इस बारे में खुद अनुराग ने एक बार मीडिया से बात करते हुए कहा था कि ‘फिल्म बनाते समय हमारे ख्याल में ये बात नहीं आई थी. हम बस एक अच्छी फिल्म बनाना चाहते थे. लेकिन फिल्म बनने के बाद लार्जर दैन लाइफ हो जाएगी, ऐसा हमने सोचा नहीं था. यह फिल्म इस कदर लोगों के दिल पर अपना असर छोड़ जाएगी इसकी कल्पना नहीं की थी. खबरों की माने तो अनुराग ने कहा था कि ‘अब क्या कर सकता हूं लेकिन इसके लिए मैं वासेपुर के लोगों से माफी मांगता हूं’.

ANURAG KASHYAP, Happy BIRTHDAY

अनुराग कश्यप एक सफल फिल्म डायरेक्टर हैं. (फोटो साभार: anuragkashyap10/Instagram)

अनुराग कश्यप के पिता बिजली विभाग में इंजीनियर थे,इसलिए उनका ट्रांसफर होता रहता था. इनकी स्कूली पढ़ाई देहरादून और ग्वालियर से हुई है. ग्रेजुएशन दिल्ली विश्वविद्यालय के हंसराज कॉलेज से किया है. ग्रेजुएशन के दौरान ही अनुराग का मन प्ले और थियेटर में लगने लगा था. वे स्ट्रीट प्ले ग्रुप जन नाट्य मंच में शामिल हो गए. दिल्ली में हुए इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ने अनुराग के जीवन पर ऐसा असर डाला कि उन्होंने अपना करियर फिल्मों में बनाने का फैसला कर लिया.

‘सत्या’ फिल्म मेकिंग के दौरान ली गई तस्वीर. (फोटो साभार: anuragkashyap10/Instagram)

1993 में पहली बार मायानगरी पहुंचे और खुद को संघर्ष में झोंक दिया. कहते हैं कि जब अनुराग मुंबई पहुंचे तो उनके पास मात्र 5 हजार रुपए थे. कई सफल एक्टर-राइटर और फिल्म मेकर की तरह इन्हें भी शुरू में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. एक आध सीरियल में काम किया. अनुराग की मुलाकात मनोज बाजपेयी ने राम गोपाल वर्मा से करवाई और उन्हें ‘सत्या’ फिल्म में लिखने का मौका मिला. ‘सत्या’ को सौरभ शुक्ला के साथ मिलकर लिखा, इसके बाद तो फिल्म की सफलता ने अनुराग के करियर को भी आगे बढ़ाया. ‘शूल’ और ‘कौन’ फिल्म के डायलॉग भी लिखे.

फिल्म निर्माता के तौर पर एक फिल्म बनाई ‘पांच’ जो रिलीज ही नहीं हुई. अनुराग कश्यप ने ‘ब्लैक फ्राइडे’, ‘नो स्मोकिंग’, ‘देव डी’, ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ और ‘बॉम्बे वेलवेट’ , ‘मनमर्जियां’ जैसे फिल्मों में अपने निर्देशन का लोहा मनवाया है.

ये भी पढ़िए-सिद्धार्थ शुक्ला और शहनाज गिल का म्यूजिक वीडियो Habit जल्द होगा रिलीज, BTS पिक्चर्स हो रही हैं VIRAL

अनुराग जितने सफल फिल्मों में हैं उतने ही असफल अपनी पर्सनल लाइफ में हैं. 1997 में पहली शादी फिल्म एडिटर आरती बजाज से की जो चल नहीं पाई और 2009 में दोनों ने डिवोर्स ले लिया. इसके बाद एक्ट्रेस कल्कि कोचलिन से शादी की, ये भी नहीं चल पाई. पांच साल साथ रहने के बाद 2015 में तलाक हो गया.  अनुराग की पहली वाइफ आरती से एक बेटी आलिया कश्यप है जो आए दिन अपने बिंदास अंदाज की वजह से सुर्खियों में रहती है. अनुराग अक्सर अपनी बेटी के साथ सोशल मीडिया पर पोस्ट करते रहते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *