September 23, 2021

NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Controversy over cutting Kalawa tied on students wrists, VHP demands action | छात्रों की कलाई पर बंधा कलावा काटे जाने पर विवाद, VHP ने की केस दर्ज करने की मांग

1 min read
Spread the love
Kalawa, Kalawa students wrists Shahjahanpur, Shahjahanpur VHP Kalawa- India TV Hindi
Image Source : PIXABAY REPRESENTATIONAL
VHP के ज्ञापन में कहा गया है कि बच्चों के हाथों में बंधी रक्षाबंधन की राखी तथा रक्षा सूत्र यानी कलावे का धागा कथित रूप से कटवा दिया गया।

शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले के एक विद्यालय में बच्चों के हाथ में बंधा कलावा (रक्षा सूत्र) तथा रक्षाबंधन की राखी के धागे को कथित रूप से काटे जाने के विरोध में विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन करके प्रधानाचार्या के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग की है। नगर मजिस्ट्रेट राजेश कुमार ने बताया कि विश्व हिंदू परिषद की ओर से उन्हें ज्ञापन प्राप्त हुआ है जिसमें शिकायत की गई है कि शाहजहांपुर शहर में स्थित एक निजी स्कूल में मंगलवार को बच्चों के हाथों में बंधी रक्षाबंधन की राखी तथा रक्षा सूत्र यानी कलावे का धागा कथित रूप से कटवा दिया गया।

‘बच्चों की पहले रक्षाबंधन की राखी उतरवाई गई’

ज्ञापन में कहा गया है कि इसके साथ ही विद्यार्थियों को सख्त हिदायत दी गई कि वे भविष्य में रक्षा सूत्र को हाथ में ना बांधे। इसी विद्यालय की 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली एक छात्रा के पिता ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि स्कूल में बच्चों की पहले रक्षाबंधन की राखी उतरवाई गई, बाद में उनके हाथ में बंधा हुआ कलावा काट दिया गया। विश्व हिंदू परिषद के नेता राजेश अवस्थी ने इस मामले को लेकर कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करने के बाद नगर मजिस्ट्रेट को ज्ञापन दिया, जिसमें कहा गया कि छात्र-छात्राओं की मर्जी के बिना राखी तथा कलावा काट दिया गया जो काफी निंदनीय है।

‘स्कूल की प्रधानाचार्य धर्म विरोधी कार्य कर रही हैं’
ज्ञापन में कहा गया है कि इसके अलावा स्कूल में राष्ट्रीय गीत और राष्ट्रगान के बजाय एक धर्म विशेष संबंधी प्रार्थना कराई जा रही है। इसमें आरोप लगाया गया है कि स्कूल की प्रधानाचार्य धर्म विरोधी कार्य कर रही हैं इसलिए इस संबंध में मामला दर्ज किया जाए। इस संबंध में स्कूल की प्राधानाचार्य ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण के चलते विद्यालय में ब्रेसलेट, घड़ी अंगूठी आदि न पहन कर आने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि इसके अलावा जिन बच्चों के हाथ में राखी या धागे बंधे हुए थे, वे काफी पुराने हो गए थे और उनके भीगने से संक्रमण का खतरा उत्पन्न होता है, इसीलिए उन्हें एहतियात के तौर पर हटाने के लिए कहा गया था।

‘इस बात को अनावश्यक तूल दिया जा रहा है’
स्कूल की प्रधानाचार्य ने कहा कि इस बात को अनावश्यक तूल दिया जा रहा है। नगर मजिस्ट्रेट राजेश कुमार ने बताया कि विश्व हिंदू परिषद की ओर से ज्ञापन उन्हें प्राप्त हुआ है और मामले की जांच कराने के बाद ही कोई कार्रवाई की जाएगी।



[

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *