September 22, 2021

NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Dry Fruits को क्यों कहा जाता है सुपर फूड्स, जानें कैसे करें डाइट में शामिल

1 min read
Spread the love

Dry Fruits: सुपरफूड्स उन खाद्य पदार्थों को कहते हैं जिनमें पोषक तत्व दूसरे फूड्स से अधिक मात्रा में मौजूद होते हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक कुछ मात्रा में भी सुपरफूड्स का अगर लोग रोजाना सेवन करते हैं तो इससे शरीर को कई फायदे मिलते हैं। विटामिन्स, मिनरल्स और प्रोटीन्स शरीर तक पहुंचते हैं और लोग बीमारियों से दूर रहते हैं।

सूखे मेवों को क्यों कहते हैं सुपरफूड्स: हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक सुपरफूड्स के सेवन से लोग बीमारियों से दूर रहते हैं, उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर होती है, ब्लड प्रेशर, शुगर लेवल और कोलेस्ट्रॉल का स्तर नियंत्रित रहता है। कई स्वास्थ्य फायदों और दूसरे खास तत्वों की मौजूदगी से ड्राय फ्रूट्स को भी सुपरफूड्स की श्रेणी में रखा जाता है। बेरीज और नट्स जैसे सूखे मेवों में प्रचुर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, साथ ही ये बढ़ती उम्र की निशानियों को कम करता है और दिमाग की क्षमता को बढ़ाता है।

किन ड्राय फ्रूट्स को खाने से होगा लाभ: विशेषज्ञों के मुताबिक लोग कई ड्राय फ्रूट्स को अपने खाने का हिस्सा बना सकते हैं। बादाम में जीरो कोलेस्ट्रॉल होता है, साथ ही इसमें भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स और फाइबर भी पाए जाते हैं। इसके अलावा, बादाम बालों और त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। माना जाता दै कि दिल को स्वस्थ रखने और दूसरी बीमारियों से दूरी बनाने में भी बादाम कारगर साबित होते हैं।

इसके अलावा, काजू विटामिन ई और बी6 से भरपूर होता है। इसमें प्रचुर मात्रा में प्रोटीन, पोटैशियम, मोनो अनसैचुरेटेड फैट और फाइबर पाया जाता है। वहीं, अखरोट को ओमेगा-3 फैटी एसिड्स, प्रोटीन, फाइबर, एंटी-ऑक्सीडेंट्स, विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर बताया जाता है। जबकि किशमिश, पिस्ता और खजूर जैसे ड्राय फ्रूट्स में उच्च मात्रा में विटामिन और प्रोटीन पाए जाते हैं, ये इम्युनिटी बढ़ाने और जीवन शैली से संबंधी रोगों से बचाव करने में मददगार होते हैं।

कैसे करें डाइट में शामिल: एक्सपर्ट्स के मुताबिक सुपरफूड्स होने का ये मतलब कतई नहीं है कि आप इनका जरूरत से ज्यादा सेवन करें। ड्राय फ्रूट्स मुट्ठी भर खाने से ही फायदा होगा। अधिकांश सूखे मेवों की तासीर गर्म होती है, ऐसे में इन्हें कम से कम 4 से 6 घंटों तक पानी में भिगोने के बाद ही खाना चाहिए। आप इन्हें शाम के वक्त या फिर नाश्ते में खा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *