NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Google ने इंडिया में लॉन्च किया न्यूज शोकेस, 50 हजार पत्रकार और स्टूडेंट्स को मिलेगा बड़ा फायदा

1 min read
Spread the love


गूगल (Google)

गूगल (Google) ने मंगलवार को भारत में 30 समाचार संगठनों के साथ अपने न्यूज शोकेस की पेशकश की है, जिसका सीधा फायदा 50 हजार पत्रकारों को होगा.

नई दिल्ली: गूगल (Google) ने मंगलवार को भारत में 30 समाचार संगठनों के साथ अपने न्यूज शोकेस की पेशकश की है, जिसका मकसद गूगल के समाचार और खोज मंचों पर गुणवत्तापूर्ण सामग्री प्रदर्शित करने के लिए प्रकाशकों को प्रोत्साहित करना और समर्थन देना है. इसके साथ ही गूगल भारत में अगले तीन वर्षों के दौरान समाचार संगठनों और पत्रकारिता विद्यालयों के 50,000 पत्रकारों और पत्रकारिता के छात्रों को डिजिटल हुनर सिखाएगा. गूगल के उपाध्यक्ष ब्रैड बेंडर ने कहा, ‘‘हम अब प्रकाशकों की मदद के लिए न्यूज शोकेस पेश कर रहे हैं, ताकि लोगों को भरोसेमंद खबर मिल सके, विशेष रूप से इस महत्वपूर्ण समय में जब कोविड संकट जारी है. समाचार शोकेस दल प्रकाशकों की पसंद के अनुसार लेखों को बढ़ावा देता है, और उन्हें खबर के साथ अतिरिक्त संदर्भ देने की अनुमति भी देता है. ताकि पाठकों में इस बात की बेहतर समझ बन सके कि उनके आसपास क्या हो रहा है.’’ यह भी पढ़ें: SBI खाताधरक अब घर बैठे चेंज करें अपना मोबाइल नंबर, फॉलो करें ये प्रोसेस उन्होंने कहा कि ये समाचार दल ब्रांडिंग सुनिश्चित करते हैं, और उपयोगकर्ताओं को प्रकाशकों की वेबसाइट पर ले जाते हैं. गूगल न्यूज शोकेस भारत में 30 राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और स्थानीय समाचार संगठनों के साथ शुरू किया गया है और आने वाले दिनों में इस संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी.एक दर्जन से अधिक देशों में उपलब्ध है सेवा गूगल की यह सेवा जर्मनी, ब्राजील, कनाडा, फ्रांस, जापान, यूके, ऑस्ट्रेलिया, चेकिया, इटली और अर्जेंटीना सहित एक दर्जन से अधिक देशों में उपलब्ध है. भारत में गूगल के कंट्री हेड और उपाध्यक्ष संजय गुप्ता ने कहा कि प्रिंट, टेलीविजन और डिजिटल में समाचारों की खपत बढ़ रही है, वहीं उपभोक्ता आदतों में बदलाव भी आ रहा है, जिसमें अधिक युवा उपभोक्ता समाचार के लिए डिजिटल पहुंच का इस्तेमाल कर रहे हैं.
यह भी पढ़ें: केंद्र सरकार दे रही 50 हजार रुपये कमाने का मौका, घर बैठे बस बनाना है ये डिजाइन गुप्ता ने कहा कि कंपनी अगले तीन वर्षों में 50,000 से अधिक पत्रकारों और पत्रकारिता के छात्रों को प्रशिक्षित करेगी और इसके तहत खबरों के सत्यापन, फेक न्यूज से निपटने के उपायों और डिजिटल उपकरणों के इस्तेमाल पर खासतौर से ध्यान केंद्रित किया जाएगा.









#Google #न #इडय #म #लनच #कय #नयज #शकस #हजर #पतरकर #और #सटडटस #क #मलग #बड #फयद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *