NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Javed Akhtar had compared RSS with Taliban BJP workers protesting at home in Mumbai

1 min read
Spread the love

मुंबई. बॉलीवुड के दिग्गज गीतकार, शायर और पटकथा लेखक जावेद अख्तर (Javed Akhtar) एक विवाद में घिरते दिखाई दे रहे हैं. उन्होंने हाल ही में एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की तुलना तालिबान (Taliban) से कर दी थी. इंटरव्यू में अख्तर ने कहा था कि, आरएसएस, वीएचपी और बजरंग दल जैसे संगठनों और तालिबान के लक्ष्य में कोई अंतर नहीं है. उनके इस बयान का बीजेपी ने कड़ा विरोध किया है. बीजेपी के कार्यकर्ता शनिवार को हाथों में तख्तियां लिए हुए जावेद अख्तर के मुंबई के जुहू स्थित घर के बाहर प्रदर्शन करने पहुंच गए. पुलिस ने विरोध प्रदर्शन को देखते हुए उनके घर के बाहर सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर दिए हैं.

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार बीजेपी कार्यकर्ता अख्तर से बिना शर्त माफी की मांग कर रहे हैं. गीतकार अख्तर ने कहा था कि पूरी दुनिया में एक राइट विंग है. देश में भीड़ के अल्पसंख्यकों की पिटाई करने पर उन्होंने कहा था कि, ‘यह तालिबान बनने का पूरी तरह से ड्रेस रिहर्सल है. ये लोग वैसी ही हरकतें कर रहे हैं. ये एक ही लोग हैं, दोनों में केवल नाम का ही अंतर है. भारतीय संविधान इनका रास्ता रोककर खड़ा है, लेकिन मौका मिल जाए तो ये संवैधानिक बाउंड्री को भी पार कर जाएंगे.’ अख्तर, तालिबान के सत्ता पर काबिज होने पर खुश हो रहे मुस्लिमों के एक तबके की आलोचना कर चुके हैं.

‘दोनों की मेंटालिटी एक जैसी है’
जावेद अख्तर ने आरएसएस, वीएचपी और बजरंग दल जैसे संगठनों का समर्थन करने वालों को आत्मचिंतन करने की सलाह दी थी. उन्होंने कहा था कि, ‘तालिबान बर्बर हैं, लेकिन आप जिनका समर्थन कर रहे हैं, उनमें और तालिबान में क्या अंतर है? उनकी जमीन मजबूत हो रही है और वे अपने टारगेट की तरफ बढ़ रहे हैं. दोनों की मेंटालिटी एक ही है.’

‘दुनिया के सारे राइट विंग एक जैसे हैं’
अख्तर ने दुनिया के सभी राइट विंग को समान बताते हुए कहा था कि, ‘दुनिया के सभी राइट विंग चाहे वह क्रिश्चियन राइट विंग हो, मुस्लिम राइट विंग हो या फिर हिंदू राइट विंग हो, सबमें समानता है. तालिबान इस्लामिक देश बनाना चाहता है. ये हिंदू राष्ट्र बनाना चाहते हैं. वे कहते हैं, जिनकी परंपरा अलग है, उन्हें स्वीकार नहीं करेंगे. ये लोग चाहते हैं कि लड़का और लड़की एक साथ पार्क में न जाए. दोनों में अंतर यह है कि ये अभी तालिबान जैसे ताकतवर नहीं हैं, लेकिन जो तालिबान का मकसद है, वही मकसद इनका है.’

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *