Latest News

September 23, 2021

NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Kerala logs 25,010 new COVID-19 cases, 177 deaths – केरल में सामने आए कोविड-19 के 25,010 नए मामले, 177 और मरीजों की मौत

1 min read
Spread the love
Kerala logs 25,010 new COVID-19 cases, 177 deaths- India TV Hindi
Image Source : PTI
केरल में कोविड-19 के 25,010 नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 43,34,704 हो गई।

तिरुवनंतपुरम: केरल में शुक्रवार को कोविड-19 के 25,010 नए मामले सामने आने के साथ ही कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़कर 43,34,704 हो गई। राज्य में इसके अलावा महामारी से 177 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की तादाद 22,303 हो गई है। राज्य की स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई। इसमें कहा गया कि केरल में बीते 24 घंटे के दौरान 1,51,317 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच हुई और राज्य में संक्रमण दर 16.53 प्रतिशत है। 

विज्ञप्ति के मुताबिक, त्रिशूर जिले में कोविड-19 के सर्वाधिक 3,226 नए मरीज सामने आए। इसके बाद एर्णाकुलम में 3,034 और मलप्पुरम में कोरोना वायरस संक्रमण के 2,606 नए मामले सामने आए। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 2,37,643 है और इनमें से 12.9 प्रतिशत लोग ही अस्पतालों में भर्ती हैं। केरल में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के 23,535 मरीज संक्रमणमुक्त भी हुए, जिससे राज्य में इस जानलेवा वायरस के संक्रमण को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 40,74,200 हो गई है। 

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए देश में कोविड-19 की स्थिति और वैक्सीनेशन अभियान की समीक्षा की। सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी। यह बैठक ऐसे समय में हुई है जब एक दिन पहले ही केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि भारत में अभी भी कोरोना की दूसरी लहर जारी है और यह समाप्त नहीं हुई है।

उन्होंने कहा था कि देश के 35 जिलों में साप्ताहिक कोविड संक्रमण दर 10 प्रतिशत से अधिक है, जबकि 30 जिलों में यह दर 5 से 10 प्रतिशत के बीच है। सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा था कि देश की वयस्क आबादी में 58 प्रतिशत को कोविड-19 वैक्सीन की कम से कम एक खुराक दी जा चुकी है, वहीं 18 प्रतिशत को दोनों खुराकें दी गयी हैं। इसके साथ ही सरकार ने कहा कि देश में अब तक 72 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं। 

ये भी पढ़ें



[

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *