September 22, 2021

NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

mixing covishield and covaxin shows better result says icmr study पहली डोज Covishield की है तो दूसरी लगवा सकते हैं Covaxin? ICMR ने कहा मिलाने पर रिजल्ट ज्यादा असरदार

1 min read
Spread the love


mixing covishield and covaxin shows better result says icmr study पहली डोज Covishield की है तो दूसरी- India TV Hindi
Image Source : PTI
पहली डोज Covishield की है तो दूसरी लगवा सकते हैं Covaxin? ICMR ने कहा मिलाने पर रिजल्ट ज्यादा असरदार

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में सबसे महत्वपूर्ण वैक्सीनेशेन के दौरान अगर आपने पहली डोज Covishield या Covaxin की ले रखी है तो क्या दूसरी डोज किसी अन्य वैक्सीन की ले सकते हैं? वैक्सीन को लेकर यह सवाल दुनियाभर में पूछा जा रहा है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) ने इस सवाल का जवाब दिया है।

ICMR की तरफ से कहा गया है कि देश में निर्मित 2 वैक्सीन Covishield तथा Covaxin को मिलाने पर कोरोना के खिलाफ ज्यादा असरदार रिजल्ट देखने को मिल रहे हैं। ICMR की तरफ से कहा गया है कि स्टडी में पाया गया है कि एडिनोवायरस वेक्टर प्लेटफॉर्म आधारित वैक्सीन (Covishield जैसी वैक्सीन) के बाद अगर इन एक्टिवेटिड होल वायरल वैक्सीन (Covaxin जैसी वैक्सीन) से इम्युनाइजेशन किया जाए तो परिणाम ज्यादा असरदार पाए गए हैं। 

कल जॉनसन एंड जॉनसन के एक खुराक वाले टीके को मिली मंजूरी

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने शनिवार को कहा कि भारत में जॉनसन एंड जॉनसन के एक खुराक वाले कोविड-19 रोधी टीके को आपात इस्तेमाल के लिये मंजूरी दे दी गई है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इससे संक्रमण से निपटने में देश के समग्र प्रयासों को और मजबूती मिलेगी। मांडविया ने ट्वीट किया, “भारत ने टीके की अपनी टोकरी (बास्केट) को और बड़ा किया। भारत में जॉनसन एंड जॉनसन के एक खुराक वाले कोविड-19 रोधी टीके को आपात इस्तेमाल के लिये मंजूरी मिली। अब भारत के पास आपात इस्तेमाल के लिए पांच टीके हैं। इससे संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में देश के समग्र प्रयासों को और मजबूती मिलेगी।”

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “अमेरिका की दवा कंपनी ने अपने टीके के आपात इस्तेमाल अधिकार(ईयूए) के लिए शुक्रवार को आवेदन दिया था और भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने उसी दिन उसे मंजूरी दे दी।”

जॉनसन एंड जॉनसन इंडिया ने एक बयान में कहा कि महामारी को समाप्त करने में मदद के वास्ते उसके टीके की उपलब्धता को बढ़ाने की दिशा में एक यह महत्वपूर्ण कदम है। कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, “हमें यह घोषणा करने हुए प्रसन्नता हो रही है कि सात अगस्त 2021 को भारत सरकार ने 18 वर्ष और इससे अधिक आयु के लोगों को कोविड-19 से बचाने के लिए भारत में जॉनसन एंड जॉनसन के एक खुराक वाले कोविड-19 रोधी टीके के लिए आपात इस्तेमाल अधिकार (ईयूए) जारी कर दिए।”

भारत में जिन पांच टीकों को आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिली है, वे हैं-सीरम इंस्टीट्यूट का कोविशील्ड, भारत बायोटेक का कोवैक्सीन, रूस का स्पूतनिक वी और मॉडर्ना का टीका और अब जॉनसन एंड जॉनसन का टीका। जॉनसन एंड जॉनसन ने इससे पहले अपने टीके का 18 वर्ष और 60 वर्ष से कम तथा 60 वर्ष और इससे अधिक आयु के लोगों के दो समूह में कम से कम 600 लोगों पर तीसरे चरण का क्लीनिकल परीक्षण करने की मंजूरी मांगी थी, ताकि इनके सुरक्षित होने, रिएक्शन होने आदि के बारे में पता लगाया जा सके लेकिन कंपनी ने 29 जुलाई को अपना प्रस्ताव वापस ले लिया था। 





UNITED STATES AMAZING STUFF

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *