NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Periods Health tips: ब्लड फ्लो के अनुसार पीरियड्स में चेंज करें पैड, हाईजीन रहें

1 min read
Health tips in Periods: Take care of the weather during periods, stay healthy

Health tips in Periods: Take care of the weather during periods, stay healthy

Spread the love
अपनी बॉडी साइज और ब्लड फ्लो के अनुसार पेड्स का चयन करें।

हैल्थ डेस्क/न्यूज नाउ। पीरियड्स या मासिक धर्म हर महिला के जीवन की एक आम प्रक्रिया है। यह सिर्फ प्रजनन के लिए ही जरूरी नहीं होती, बल्कि यह उनके स्वास्थ्य के बारे में भी बताती है। मासिक धर्म सबको एक ही उम्र में नहीं होता। सामान्य तौर पर 11 से 13 वर्ष की उम्र में लड़कियों का मासिक धर्म शुरू हो जाता है। पीरियड्स महीने में एक बार आते हैं। सामान्य तौर पर यह चक्र 28 से 35 दिनों के बीच ही चलता है। महिला जब तक गर्भवती न हो जाए यह प्रक्रिया हर महीने होती है. मतलब 28 से 35 दिनों के बीच नियमित तौर पर मासिक धर्म या माहवारी होती है। 

हाईजीन का ध्यान रखने से कई प्रकार की संक्रामक बीमारियों से बचा जा सकता है।

महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. सुलभा भार्गव का कहना है कि पीरियड्स के दौरान हाईजीन का ध्यान रखना काफी जरूरी होता है। खासतौर पर गर्मियों के मौसम में यह और भी जरूरी हो जाता है। अब यह सवाल उठता है कि पीरियड्स में पेड्स कब बदलने चाहिए और कितने समय अंतराल पर बदलने चाहिए।. आइए जानते हैं माहवारी के दौरान इस सबसे जरूरी बिंदु के बारे में 

ऐसे करें सही पैड का चुनाव

अव्छी कंपनी का पैड आपको संक्रमण से बचाता है।

पीरियड्स के दौरान हमेशा अच्छे पैड का ही इस्तेमाल करें। आप अपने मासिक धर्म (रक्तस्राव) के अनुसार पैड का चुनाव करें. अगकर आपको लग रहा है कि रक्त का प्रवाह ज्यादा हो रहा है तो आप लंबे पैड्स का इस्तेमाल कर सकती हैं, वहीं  अगर आपको लग रहा है कि रक्त का प्रवाह कम है तो आप छोटे पैड्स का चुनाव कर सकती हैं। कुछ लड़कियां दो तरह के पैड का इस्तेमाल करती हैं। एक भारी दिनों के लिए तो एक हल्के दिनों के लिए। आप रात को सोते टाइम विशेष पैड का इस्तेमाल भी कर सकती हैं।

ब्लड का फ्लो के अनुसार बदलें पैड


Health tips in Periods: Take care of the weather during periods, stay healthy

अगर आपके नए-नए पीरियड्स शुरू हुए हैं तो आपको बता दें कि पैड कब चेंज करना है, वह इस बात पर निर्भर करता है कि आपके ब्लड का फ्लो कैसा है, अगर आपको ब्लीडिंग ज्यादा होती है तो आप हर चार घंटे में पैड बदल लें। यदि ब्लीडिंग कम या सामान्य है तब भी हर 6 से 8 घंटे में पैड बदलना सही रहेगा,  अगर आप ट्रैवल पर हैं या किसी ऐसी जगह हैं, जहां आपको चेंज करने की सुविधा नहीं मिल रही है, उस स्थिति में अधिक से अधिक 12 घंटे ही कोई पैड आपकी स्किन के संपर्क में रहना चाहिए। यदि इससे ज्यादा समय रहा तो संक्रमण फैलने का अंदेशा बढ़ जाएगा।

समय-समय पर पैड बदलें, ताकि स्किन डिजेज से भी बच सकें।

रात को सोते टाइम रखें इन बातों का ध्यान

  • पीरियड्स के दौरान रात को सोते समय वजाइना को एक बार पानी से साफ जरूर करना चाहिए।
  • इसके अलावा आपको वजाइना को किसी मेडिकेटेड वॉश से धोना चाहिए और नया पैड यूज करना चाहिए।


Periods Health tips: Change pads in periods according to blood flow, stay hygienic

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *