NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Tokyo Olympic: दुती चंद अब तक नहीं कर सकी हैं क्वालिफाई, वर्ल्ड रैंकिंग से है आस

1 min read
Spread the love


दुती चंद को अभी दो और इवेंट में उतरना है. (dutee chand Twitter)

महिला धावक दुती चंद (Dutee Chand) अब तक ओलंपिक (Tokyo Olympic) के लिए क्वालिफाई नहीं कर सकी हैं. हालांकि अभी भी उन्हें दो इवेंट में उतरना है. कोरोना के कारण वे कई इवेंट में नहीं उतर सकीं.

नई दिल्ली. ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने के करीब राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक फर्राटा धाविका दुती चंद ने बुधवार को कहा कि उनका लक्ष्य आगामी तोक्यो खेलों में बेहतर समय के साथ 100 मीटर फाइनल में जगह बनाना है. दुती अब तक 11.15 सेकेंड के ओलंपिक क्वालिफिकेशन समय को हासिल करने में नाकाम रही हैं, लेकिन वर्ल्ड रैंकिंग के आधार पर उनके टोक्यो खेलों में जगह बनाने की उम्मीद है. स्पर्धा में हिस्सा लेने वाले 56 धावकों में से 33 क्वालिफिकेशन समय के आधार पर जगह बनाएंगे, जबकि बाकियों का चयन रैंकिंग के आधार पर होगा.

25 साल की दुती का निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 11.22 सेकेंड है और अभी वह वर्ल्ड एथलेटिक्स रोड टू तोक्यो सूची में 42वें स्थान पर चल रही हैं. इस सूची में वे खिलाड़ी भी शामिल हैं, जिन्होंने बेहतर समय निकालकर स्पर्धा में जगह बना ली है. क्वालिफिकेशन की अंतिम समय सीमा 29 जून है और स्पर्धा में जगह बनाने वालों की अंतिम सूची एक जुलाई को जारी होगी. दुती चंद ने कहा, ‘मैं 21 जून को इंडियन ग्रांप्री 4 और राष्ट्रीय इंटर स्टेट चैंपियनशिप (25 से 29 जून) के दौरान 11.15 सेकेंड के समय को हासिल करने का सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगी. अगर ऐसा नहीं होता है तो मुझे रैंकिंग के आधार पर क्वालिफाई करने की उम्मीद है.’ उन्होंने कहा, ‘टोक्यो में मेरा लक्ष्य 11.10 सेकेंड से कम समय में रेस पूरी करना है. ओलंपिक सबसे बड़ी प्रतियोगिता है. काफी धावक हैं, जो 11 सेकेंड के आस-पास या इससे कम समय लेती हैं.’

रिले टीम भी नहीं कर सकी है क्वालिफाई

दुती चंद को देश में कोविड-19 स्थिति के कारण भारतीयों पर यात्रा पाबंदियों के चलते मई में पोलैंड में वर्ल्ड रिले चैंपियनशिप और किर्गिस्तान, कजाखस्तान में दो प्रतियोगिताओं में हिस्सा नहीं ले जाने का मलाल है. उन्होंने कहा, ‘ट्रेनिंग प्रतियोगिता के कार्यक्रम में काफी बदलाव हुआ है. मुझे अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में हिस्सा नहीं ले पाने की निराशा है, लेकिन इसमें कोई कुछ नहीं कर सकता.’ अभी एनआईएस पटियाला में राष्ट्रीय शिविर में हिस्सा ले रही दुती चंद ने कहा, ‘अगर हम पोलैंड में वर्ल्ड रिले में हिस्सा लेते तो हमारी चार गुणा 100 मीटर रिले टीम ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर चुकी होती.’ ओलंपिक की महिला चार गुणा 100 मीटर रिले स्पर्धा में 16 टीमें हिस्सा लेंगी और भारत रोड टू टोक्यो सूची में अभी 43.05 सेकेंड के समय के साथ 16वें स्थान पर चल रहा है.रोजाना 6 घंटे कर रही हैं ट्रेनिंग

दुती चंद ने कहा कि ट्रेनिंग के लिहाल से अगला एक महीना महत्वपूर्ण होगा और उनका लक्ष्य अपने समय में सुधार करने का है. उन्होंने बताया कि वह सुबह 6 से 10 ट्रेनिंग करने के बाद दोपहर में आराम करती हैं और फिर शाम को 6 से 8 बजे तक दोबारा ट्रेनिंग करती हैं. ओडिशा में अपने ही गांव की एक महिला से संबंध से उठे विवाद के बारे में पूछने पर दुती ने कहा, ‘किसी और इंसान से प्यार करना क्या गुनाह है? कोई दूसरे लिंग के व्यक्ति से प्यार कर सकता है और कोई समान लिंग के इंसान से। समस्या कहां है? कुछ लोगों मुझे इस तरह देखते हैं कि मैं विवाद पैदा करती हूं. लेकिन यह किसी की पसंद पर निर्भर करता है. मुझे अपनी जोड़ीदार से प्यार है, जो एक महिला है और वह भी मुझे प्यार करती है. मैंने उसे बाध्य नहीं किया. हम एक साथ जीवन बिताना चाहते हैं.’









#Tokyo #Olympic #दत #चद #अब #तक #नह #कर #सक #ह #कवलफई #वरलड #रकग #स #ह #आस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *