NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

Yoga Session: ये सूक्ष्म व्यायाम हैं सेहत के लिए लाभकारी, सीखें

1 min read
Spread the love


सीखें योग एक्सपर्ट सविता यादव से

Yoga Session: योग अभ्यास की प्रैक्टिस रोजाना करने से यह आदत में शामिल हो जाता है. योग करने से न केवल मनुष्य स्वस्थ (Healthy) रह सकता है बल्कि उसे हर प्रकार के तनाव (Stress) से भी मुक्ति मिलती है.

Yoga Session: आज के योग सेशन में तन – मन को सेहतमंद रखने वाले कई छोटे-छोटे सूक्ष्म व्यायाम और प्राणायाम दिखाए और सिखाए गए गए. योग एक्सपर्ट सविता यादव से आज हमने News18 Hindi के फेसबुक पेज पर योग करने के कई तरीके सीखे . लाइव योग सेशन (Live Yoga Session) में कई तरह के योग आसनों के बारे में बताया गया. योग करने से न केवल मनुष्य स्वस्थ (Healthy) रह सकता है बल्कि उसे हर प्रकार के तनाव (Stress) से भी मुक्ति मिलती है. योग सांसों और मन पर नियंत्रण पाने की क्रिया है.योग से सम्पूर्ण जीवन प्रभावित होता है और जीवन चक्र बेहतर चलता है….

भस्त्रिका प्राणायाम

भस्त्रिका का अभ्‍यास कोरोना के समय में अपने लंग्‍स की कैपिसिटी को बढ़ाने के लिए करें. यह मुख्य रूप से डीप ब्रीदिंग है. इससे आपका रेस्पिरेटरी सिस्टम मजबूत होगा. भस्त्रिका प्राणायाम बहुत ही महत्वपूर्ण प्राणायाम है. इससे तेजी से रक्त की शुद्धि होती है. साथ ही शरीर के विभिन्न अंगों में रक्त का संचार तेज होता है.

कपालभारती: कपालभाति प्राणायाम करने के लिए रीढ़ को सीधा रखते हुए किसी भी ध्यानात्मक आसन, सुखासन या फिर कुर्सी पर बैठें. इसके बाद तेजी से नाक के दोनों छिद्रों से सांस को यथासंभव बाहर फेंकें. साथ ही पेट को भी यथासंभव अंदर की ओर संकुचित करें. इसके तुरंत बाद नाक के दोनों छिद्रों से सांस को अंदर खीचतें हैं और पेट को यथासम्भव बाहर आने देते हैं. इस क्रिया को शक्ति व आवश्यकतानुसार 50 बार से धीरे-धीरे बढ़ाते हुए 500 बार तक कर सकते हैं लेकिन एक क्रम में 50 बार से अधिक न करें. क्रम धीरे-धीरे बढ़ाएं. इसे कम से कम 5 मिनट और अधिकतम 30 मिनट तक कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें:  Yoga Session: बढ़ते बच्चों के लिए बेस्ट है ये एक्सरसाइज, बढ़ती है लंबाई 

कपालभारती के फायदे:

कपालभारती बहुत ऊर्जावान उच्च उदर श्वास व्यायाम है. कपाल अर्थात मस्तिष्क और भाति यानी स्वच्छता अर्थात ‘कपालभारती’ वह प्राणायाम है जिससे मस्तिष्क स्वच्छ होता है और इस स्थिति में मस्तिष्क की कार्यप्रणाली सुचारु रूप से संचालित होती है. वैसे इस प्राणायाम के अन्य लाभ भी हैं. लीवर किडनी और गैस की समस्या के लिए बहुत लाभ कारी है. रक्त संचार अच्छा होता है, सांस की बीमारियों में फायदेमंद, महिलाओं के लिए लाभकारी है. पेट संबंधी रोगों और कब्ज की परेशानी और चर्बी कम करता है.

ये लोग कपालभारती न करें:

प्रेग्नेंट महिलाओं को इसे करने से बचना चाहिए. यदि कोई सर्जरी हुई हो तो न करें. गैसट्रिक और एसिटिडी वाले पेशेंट्स इसे धीरे-धीरे करने की कोशिश करें. पीरियड्स में बिल्कुल न करें. हाई बीपी और हार्ट संबंधी रोगों के पैशेंट्स इसे करने से बचें.









#Yoga #Session #य #सकषम #वययम #ह #सहत #क #लए #लभकर #सख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *