NEWS NOW

ALL NEWS Just ON ONE CLICK

You did wonders despite obstacles: PM Modi to Neeraj Chopra in phone call । नीरज चोपड़ा के गोल्ड मेडल जीतने पर मोदी ने फोन पर बधाई देते हुए कहा- पानीपत ने पानी दिखा दिया

1 min read
Spread the love


पीएम मोदी ने भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा को फोन पर दी बधाई- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV
पीएम मोदी ने भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा को फोन पर दी बधाई

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा से तोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने के बाद फोन पर बात की और उनकी प्रशंसा की कि उन्होंने चोटों और ब्रेक को अपने प्रदर्शन में बाधा नहीं बनने दिया। नीरज चोपड़ा के गोल्ड मेडल जीतने के बाद उनसे फोन पर बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ओलंपिक समापन की तरफ जा रहा है और आपने देश को खुश कर दिया… आपने बहुत बड़ा कमाल कर दिया। 

पीएम मोदी ने भारतीय सेना से जुड़े इस युवा एथलीट से फोन पर कहा, ‘‘नीरज आपको बहुत बहुत बधाई। आपने ओलंपिक में हमारी प्रतिस्पर्धाओं के अंतिम दिन देश को खुश कर दिया। चोपड़ा ने इसका जवाब दिया, ‘‘मैं अच्छा करना चाहता था, स्वर्ण पदक जीतना बहुत बड़ी बात है। मुझे काफी लोगों का सहयोग और शुभकामनायें मिलीं।’’ प्रधानमंत्री ने फिर मजाक में उनके गृहनगर पानीपत का जिक्र करते हुए कहा, ‘पानीपत ने पानी दिखा दिया।’’ उन्होंने कहा, ‘आपको एक साल ज्यादा मेहनत करनी पड़ी क्योंकि कोविड-19 लॉकडाउन के कारण ओलंपिक में देरी हुई। आप कंधे की चोट (2019) से भी जूझते रहे। इन सभी बाधाओं के बावजूद आपने कमाल कर दिया, यह सिर्फ कड़ी मेहनत के कारण हुआ।’

चोपड़ा ने स्वीकार किया कि उनके लिये यह काम आसान नहीं था। उन्होंने कहा, ‘‘बहुत मुश्किल था सर। ’’ मोदी ने चोपड़ा के आत्मविश्वास के बारे में भी बात की जिसे ओलंपिक फाइनल्स के दौरान सभी ने देखा लेकिन प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने खेलों से पहले इसे देख लिया था। उन्होंने कहा, ‘‘जिस दिन मैंने आपसे बात की, उस दिन ही मैंने आपके चेहरे का आत्मविश्वास देख लिया था।’’ 

चैम्पियन ने कहा, ‘‘मैं सिर्फ अपना शत प्रतिशत देना चाहता था।’’ मोदी ने चोपड़ा से कहा कि उन्होंने अपनी उपलब्धि से युवा पीढ़ी को प्रेरित किया है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘आपने युवा पीढ़ी को प्रेरित किया है। हमने उन खेलों में अच्छा प्रदर्शन दिखाया है जिनमें हम सामान्यत: अच्छे नहीं हैं। खेल देश के लिये बहुत जरूरी हैं। यह आपके परिवार के लिये गर्व का पल है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं आपसे 15 अगस्त को मिलूंगा। बहुत बधाई।’’ भारत ने अपना ओलंपिक अभियान सात पदक से समाप्त किया जिसमें नीरज के स्वर्ण के अलावा दो रजत और चार कांस्य पदक शामिल हैं। बता दें कि, तेईस साल के चोपड़ा इस स्वर्ण पदक से ट्रैक एवं फील्ड स्पर्धा में देश को ओलंपिक पदक दिलाने वाले पहले एथलीट बन गये। यह भारत का ओलंपिक की व्यक्तिगत स्पर्धाओं में दूसरा स्वर्ण पदक था। निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने 2008 बीजिंग खेलों में देश को पहला व्यक्तिगत स्वर्ण पदक दिलाया था।

रनवे पर खड़ा होता हूं तो मेरा पूरा फोकस थ्रो पर होता है- नीरज चोपड़ा

टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा ने कहा कि ‘ये तो था ही कि मेडल लेकर आना है लेकिन जिस समय फील्ड में होता हूं दिमाग में इधर-उधर की बातें नहीं आतीं। मैं पूरा फोकस इवेंट पर ही करता हूं। रनवे पर खड़ा होता हूं तो मेरा पूरा फोकस थ्रो पर होता है और मैं अपना थ्रो सही से कर पाता हूं। मैं आशा करता हूं कि AFI खासकर एथलेटिक्स और जैवलिन को और बढ़ावा दे क्योंकि मुझे लगता है कि भारत में बहुत प्रतिभा है। वे धीरे-धीरे सामने आएंगे। ओलंपिक में और अच्छा कर सकते हैं। मुझे लग रहा है कि हम कुछ भी कर सकते हैं। पहला थ्रो अगर हम अच्छा कर लें तो खुद पर भी कॉन्फिडेंस आ जाता है और दूसरे एथलीट पर दबाव हो जाता है। सेकेंड थ्रो भी काफी स्टेबल थी। कहीं न कहीं मेरे दिमाग में आया कि ओलंपिक रिकॉर्ड के लिए कोशिश करता हूं। अब 90 मीटर के मार्क को हासिल करना है। 

चोट लगने के बाद काफी उतार चढ़ाव आए- चोपड़ा

ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा ने आगे कहा कि इस साल सबसे जरूरी अंतर्राष्ट्रीय कंपटीशन खेलना था। सभी ने सहयोग दिया। बीच में मुझे जो 2-3 अंतर्राष्ट्रीय कंपटीशन मिले वे मेरे लिए जरूरी थे। इसी वजह से मैं कंपटीशन खेला। ओलंपिक था लेकिन दबाव नहीं था कि मैं बड़े थ्रोअर्स के बीच खेल रहा हूं। लग रहा था कि इनके साथ मैं पहले खेला हूं। मैं अपनी परफॉर्मेंस पर काफी फोकस कर पा रहा था। चोट लगने के बाद काफी उतार चढ़ाव आए। आप सभी ने मदद की। मेरी मेहनत तो है ही साथ-साथ आप सभी की भी मेहनत है। सभी सुविधाओं के लिए धन्यवाद।

नीरज चोपड़ा के लिये स्वर्ण पदक जीतने पर 10 करोड़ रुपये की घोषणा

भारत को एथलेटिक्स में पहला स्वर्ण पदक दिलाने वाले भाला फेंक के स्टार एथलीट नीरज चोपड़ा को उनकी इस उपलब्धि के लिये शनिवार को कुल मिलाकर 10 करोड़ रुपये के नकद पुरस्कारों की घोषणा की गयी। चोपड़ा के भारत के ओलंपिक इतिहास में व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीतने वाला दूसरा खिलाड़ी बनने के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने उनके लिये छह करोड़ रुपये जबकि पंजाब के मुख्ममंत्री अमरिंदर सिंह ने दो करोड़ रुपये के नकद पुरस्कार की घोषणा की।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) और इंडियन प्रीमियर लीग फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स ने भी चोपड़ा को एक-एक करोड़ रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की। खट्टर ने इसके साथ ही घोषणा की चोपड़ा को पंचकुला में एथलेटिक्स के सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का प्रमुख बनाया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी खेल नीति के तहत नीरज को छह करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार, क्लास वन की नौकरी और सस्ती दरों पर प्लॉट दिया जाएगा।’’

चोपड़ा हरियाणा के पानीपत जिले के खांद्रा गांव के रहने वाले हैं। हरियाणा के पहलवान रवि दहिया ने रजत और बजरंग पूनिया ने कांस्य पदक जीता। मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचकुला में 13 अगस्त को बड़ा सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा जिसमें तोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले राज्य के खिलाड़ियों को सम्मानित किया जाएगा। अमरिंदर सिंह ने भी चोपड़ा की उपलब्धि की सराहना की और आधिकारिक बयान जारी करके उनके लिये दो करोड़ रुपये के नकद पुरस्कार की घोषणा की।

 





UNITED STATES AMAZING STUFF

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *